Google fragen

Sie suchten nach: आपकी प्रतिक्रिया (Englisch - Hindi)

Menschliche Beiträge

Von professionellen Übersetzern, Unternehmen, Websites und kostenlos verfügbaren Übersetzungsdatenbanken.

Übersetzung hinzufügen

Englisch

Hindi

Info

Englisch

आपकी नया चित्र दिखेये

Hindi

Aapki naya picture dikhaiye

Letzte Aktualisierung: 2017-12-24
Nutzungshäufigkeit: 1
Qualität:

Referenz: Anonym

Englisch

मुझे आप बहुत अच्छे लगे ओर आपकी हंसी

Hindi

aapki soch bahut achi hai या aap Bhi

Letzte Aktualisierung: 2019-06-18
Nutzungshäufigkeit: 1
Qualität:

Referenz: Anonym

Englisch

आपकी घड़ी में कितने बजे हैं?

Hindi

What time is your watch?

Letzte Aktualisierung: 2019-01-10
Nutzungshäufigkeit: 1
Qualität:

Referenz: Anonym

Englisch

मैं आपकी सफलता की कामना करता हूँ।

Hindi

aa mai aapki safalta ki kamna karta hu

Letzte Aktualisierung: 2019-01-04
Nutzungshäufigkeit: 1
Qualität:

Referenz: Anonym

Englisch

ओह सोरी डार्लिग मै आपकी कोई मदद नही कर सकता.

Hindi

ओह सोरी डार्लिग मै आपकी कोई मदद नही कर सकता।

Letzte Aktualisierung: 2015-11-24
Nutzungshäufigkeit: 1
Qualität:

Referenz: Anonym

Englisch

मेने कभी सोचा नही था की आप ऐसा बोल सकती हो । अंशु अपने कभी मेरा पियार समझा नही की में आपसे कितना पियार करता हु। परन्तु में आपसे एक बात बता दु की मूझसे सच्चा पियार आपको कोई नही कर सकता सचमुच अंशु । आपको जो बोलना था अपने बोल दिया परन्तु ये नही सोचा कि मेरे दिल पर किया गुजरेगी । मुझको लगता था की आप मुझको सच्चा पियार करती हो पर बो मेरी सोच गलत थी। अगर आप मेरे बिना खुश रहे सकती हो तो आच्छी बात है। पर में आपके नही रहे सकता खुश।अब आपकी मर्जी है आप अपनी ज़िन्दगी अपने तरीके से जी सकती हो। परन्तु एक बात धियान रखना की मेरी कोई गलती नही है।। आप ही मुझसे दूर होना सोच रही थी। नही तो कोई इतनी बड़ी

Hindi

मेने कभी सोचा नही था की आप ऐसा बोल सकती हो । अंशु अपने कभी मेरा पियार समझा नही की में आपसे कितना पियार करता हु। परन्तु में आपसे एक बात बता दु की मूझसे सच्चा पियार आपको कोई नही कर सकता सचमुच अंशु । आपको जो बोलना था अपने बोल दिया परन्तु ये नही सोचा कि मेरे दिल पर किया गुजरेगी । मुझको लगता था की आप मुझको सच्चा पियार करती हो पर बो मेरी सोच गलत थी। अगर आप मेरे बिना खुश रहे सकती हो तो आच्छी बात है। पर में आपके नही रहे सकता खुश।अब आपकी मर्जी है आप अपनी ज़िन्दगी अपने तरीके से जी सकती हो। परन्तु एक बात धियान रखना की मेरी कोई गलती नही है।। आप ही मुझसे दूर होना सोच रही थी। नही तो कोई इतनी बड़ी बात नही थी कल जो अपने इस बात को इतना बड़ा बना दिया।

Letzte Aktualisierung: 2018-12-30
Nutzungshäufigkeit: 1
Qualität:

Referenz: Anonym

Englisch

मैंने दैनिक समाचार पत्र हिंदुस्तान में आपके द्वारा दिये गये विज्ञापन सहायक अध्यापक इंग्लिश पद हेतु "आवश्यकता है' को पढ़ा अत:मै उक्त पद हेतु अपना आवेदन पत्र व् समस्त शेक्षिक अंकपत्र व् प्रमाण पत्र की छायाप्रति सहित भेज रहा हु आपसे अनुरोध है की मेरा आवेदन पत्र स्वीकार करने का कष्ट करें आपकी अति कृपा होगी

Hindi

I read the daily newsletter, "Need to have an advertisement assistant teacher English post by you in Hindustan: I request you to send my application for the post, including the Xerox copy of all educational marksheets and certificates, and accept my application form. Specify that you will be very pleased

Letzte Aktualisierung: 2018-08-08
Nutzungshäufigkeit: 1
Qualität:

Referenz: Anonym
Warnung: Enthält unsichtbare HTML-Formatierung

Englisch

कृपया इनकी जांच करें: आपका नेटवर्क कनेक्शन (क्या आप www.google.com पर पहुंच सकते हैं?) आपकी फ़ायरवॉल सेटिंग (क्या आप " " को अवरोधित कर रहे हैं?)

Hindi

कृपया इनकी जांच करें: आपका नेटवर्क कनेक्शन (? क्या आप www.google.com पर पहुंच सकते हैं) आपकी फ़ायरवॉल सेटिंग (? क्या आप "" को अवरोधित कर रहे हैं)

Letzte Aktualisierung: 2016-09-10
Nutzungshäufigkeit: 1
Qualität:

Referenz: Anonym
Warnung: Enthält unsichtbare HTML-Formatierung

Englisch

जो नित्य एवं स्थाई प्रतीत होता है, वह भी विनाशी है। जो महान प्रतीत होता है, उसका भी पतन है। जहाँ संयोग है वहाँ विनाश भी है। जहाँ जन्म है वहाँ मरण भी है। ऐसे सारस्वत सच विचारों को आत्मसात करते हुए महात्मा बुद्ध ने बौद्ध धर्म की स्थापना की जो विश्व के प्रमुख धर्मों में से एक है। विश्व के प्रसिद्द धर्म सुधारकों एवं दार्शनिकों में अग्रणी महात्मा बुद्ध के जीवन की घटनाओं का विवरण अनेक बौद्ध ग्रन्थ जैसे- ललितबिस्तर, बुद्धचरित, महावस्तु एवं सुत्तनिपात से ज्ञात होता है। भगवान बुद्ध का जन्म कपिलवस्तु के पास लुम्बिनी वन में 563 ई.पू. में हुआ था। आपके पिता शुद्धोधन शाक्य राज्य कपिलवस्तु के शासक थे। माता का नाम महामाया था जो देवदह की राजकुमारी थी। महात्मा बुद्ध अर्थात सिद्धार्थ (बचपन का नाम) के जन्म के सातवें दिन माता महामाया का देहान्त हो गया था, अतः उनका पालन-पोषण उनकी मौसी व विमाता प्रजापति गौतमी ने किया था। सिद्धार्थ बचपन से ही एकान्तप्रिय, मननशील एवं दयावान प्रवृत्ति के थे। जिस कारण आपके पिता बहुत चिन्तित रहते थे। उपाय स्वरूप सिद्धार्थ की 16वर्ष की आयु में गणराज्य की राजकुमारी यशोधरा से शादी करवा दी गई। विवाह के कुछ वर्ष बाद एक पुत्र का जन्म हुआ जिसका नाम राहुल रखा गया। समस्त राज्य में पुत्र जन्म की खुशियां मनाई जा रही थी लेकिन सिद्धार्थ ने कहा, आज मेरे बन्धन की श्रृंखला में एक कङी और जुङ गई। यद्यपि उन्हे समस्त सुख प्राप्त थे, किन्तु शान्ति प्राप्त नही थी। चार दृश्यों (वृद्ध, रोगी, मृतव्यक्ति एवं सन्यासी) ने उनके जीवन को वैराग्य के मार्ग की तरफ मोङ दिया। अतः एक रात पुत्र व अपनी पत्नी को सोता हुआ छोङकर गृह त्यागकर ज्ञान की खोज में निकल पङे। गृह त्याग के पश्चात सिद्धार्थ मगध की राजधानी राजगृह में अलार और उद्रक नामक दो ब्राह्मणों से ज्ञान प्रप्ति का प्रयत्न किये किन्तु संतुष्टि नहीं हुई। तद्पश्चात निरंजना नदी के किनारे उरवले नामक वन में पहुँचे, जहाँ आपकी भेंट पाँच ब्राह्मण तपस्वियों से हुई। इन तपस्वियों के साथ कठोर तप किये परन्तु कोई लाभ न मिल सका। इसके पश्चात सिद्धार्थ गया(बिहार) पहुँचे, वहाँ वह एक वट वृक्ष के नीचे समाधी लगाये और प्रतिज्ञां की कि जबतक ज्ञान प्राप्त नही होगा, यहाँ से नही हटुँगा। सात दिन व सात रात समाधिस्थ रहने के उपरान्त आंठवे दिन बैशाख पूणिर्मा के दिन आपको सच्चे ज्ञान की अनुभूति हुई। इस घटना को “सम्बोधि” कहा गया। जिस वट वृक्ष के नीचे ज्ञान प्राप्त हुआ था उसे “बोधि वृक्ष” तथा गया को “बोध गया” कहा जाता है।

Hindi

संस्कृत भाषा

Letzte Aktualisierung: 2014-11-18
Nutzungshäufigkeit: 1
Qualität:

Referenz: Wikipedia

Einige menschliche Übersetzungen mit geringer Relevanz wurden ausgeblendet.
Ergebnisse mit niedriger Relevanz anzeigen.

Eine bessere Übersetzung mit
4,401,923,520 menschlichen Beiträgen

Benutzer bitten jetzt um Hilfe:



Wir verwenden Cookies zur Verbesserung Ihrer Erfahrung. Wenn Sie den Besuch dieser Website fortsetzen, erklären Sie sich mit der Verwendung von Cookies einverstanden. Erfahren Sie mehr. OK